Wednesday, April 28, 2010

अमेरिका जा रही हूँ, पता नहीं कितने दिन बाद ब्‍लागिंग करने का सुख मिले

फोन की घण्‍टी बज उठी, मम्‍मी नमकीन रख लिया ना? इतने में ही बहु की आवाज भी सुनाई दे गयी, अचार रख लिया ना? इसके लिए उपहार, उसके लिए मिठाई। दाल, दलिया जो ले जा सको लेकर जाना, वहाँ स्‍वाद नहीं है। तो भाई, आजकल अमेरिका जाने की तैयारी कर रहे हैं। कपड़े भी सिलवा लिये हैं। अटेची पेक होना भी शुरू हो गयी है। एक-एक सामान को तीन-तीन बार चेक किया जा रहा है कि कहीं कुछ रह ना जाए। बस अब तो दिन ही कितने रह गए हैं? तीन तारीख की तो फ्‍लाइट ही है। सोचा आप लोगों को भारत से अन्तिम पोस्‍ट लिख ही दूं। अमेरिका पहुंचने के बाद पता नहीं कितने दिन तक पोस्‍ट लिखी ही नहीं जाए? वहाँ भी तो हिन्‍दी की व्‍यवस्‍था करनी पड़ेगी ना।

मेरा सभी को राम-राम। पूरे दो माह बाद आगमन है। केलिफोर्निया जाना है, यदि वहाँ अपना कोई ब्‍लागर हो तो अवश्‍य बता देना। निर्मला जी वहीं है, उम्‍मीद पक्‍की है मिलने की। जब तक सभी को केवल याद करूंगी। मैं अपना फोन नम्‍बर भी दे रही हूँ जिससे कोई भी अपना हो तो वो मुझसे अवश्‍य बात कर ले। पराये देश में अपने ही तो अपने होते हैं।

 आप सब की पोस्‍ट कई दिनों से ढंग से पढ़ नहीं पा रही हूँ, उसके लिए भी क्षमा। इन दिनों में वैसे आप लोग ज्‍यादा अच्‍छा मत लिखना, बस काम चलाऊ लिखते रहना। जिससे मुझे ना पढ़ने का कोई दुख नहीं हो। चलिए अब बन्‍द करती हूँ सभी को पुन: राम राम।

48 comments:

rashmi ravija said...

आपकी यात्रा शुभ हो.और आपका अमेरिका प्रवास आनंदमय हो..
.ब्लॉग जगत आपको मिस करेगा.
शुभकामनाएं

M VERMA said...

यात्रा मंगलमय हो
लौटकर संस्मरणो के जरिये हमें भी इस यात्रा से रूबरू करवायें

अजय कुमार झा said...

लीजीए अमेरिका जा रही हैं तो ये तो और भी बढिया बात है न , बस ज्यादा की इच्छा नहीं है हमें , आप ओबामा से कह दीजीएगा कि एक ब्लोग यहां भी बना ही ले अपना , न माने तो कह दीजीएगा कि पक्की खबर है कि लादेन ने बना लिया है , वो अपने आप मान जाएगा , सबूत मांगे तो किसी बेनामी की टिप्पणी दिखा देंगे ।

आपकी यात्रा मंगलमय हो ,
सवारी अपने सामान का ध्यान खुद रखें ,
चलते हुए हवाई जहाज में हाथ बाहर न निकालें,


बांकी के ढूंढ कर चिट्ठी में लिख दूंगा । फ़ोटो शोटो खींच लाईयेगा हमारे लिए वहां से

ललित शर्मा said...

थारी यात्रा मंगलमय हो
जातां ही तार कर दियो म्हाने।

राम राम

'अदा' said...

आपकी यात्रा शुभ हो अजित जी...
समय मिले तो ज़रूर आइयेगा मेरे घर...आपका स्वागत है...
मुझे बहुत ख़ुशी होगी...

यशवन्त मेहता "फ़कीरा" said...

Happy Journey!!!

डॉ टी एस दराल said...

अमेरिका यात्रा मंगलमय हो ।
नेट पर तो वहां भी मुलाकात हो सकती है।
जो भी मिलें , मिलिएगा ज़रूर। बहुत आनंद आएगा।

मनोज कुमार said...

आपकी यात्रा शुभ हो.और आपका अमेरिका प्रवास आनंदमय हो!

Arvind Mishra said...

मंगलमय यात्रा -
हम काम चलाऊ सरकार चलाते रहेगे ....

रचना दीक्षित said...

आपकी यात्रा मंगलमय हो

शोभना चौरे said...

अरे एक तो अमेरिका जा रही है? और हिदायत भी दे रही कि काम चलाऊ लिखना ये तो अच्छी बात नहीं है |हाहाहा
आपकी यात्रा मंगलमय हो और वही से ब्लॉग भी लिखती रहे यही शुभकामनाये है हमारी |
शुभ यात्रा \

honesty project democracy said...

आपकी यात्रा मंगलमय हो / लेकिन अपने सार्थक विचारों का एक छोटा सा सम्मान तो लेते जाइये / आपका फोन काम नहीं कर रहा है /कृपया आप हमें इस मोबाइल पर फोन करें -09810752301 /

अनामिका की सदाये...... said...

ab aap itne apne pan se kah rahi hai ki koi acchhi acchhi posts na dale to ham apne bado ka kaha kaise taal sakte hai bhala...aji katayi nahi dalenge...aur yahi to hamare sanskaar aapko hamari aur hamare BHARAT ki yaad dila dila kar vapis kheench layenge apni maati me. to ji theek hai..jaiye..hamari raam raam...aur aapki yaatra mangalmay ho. koshish kariyega jara obama se ki aapka blog vaha khulva de.:)bye.best of luck.

Smart Indian - स्मार्ट इंडियन said...

स्वागत है! कुछ पुरानी हिदायतें -
सर जहाज़ की खिड़की से बाहर मत निकालिएगा.
रास्ते में प्लेटफोर्म पर उतारकर चाय मत पीजिएगा.
अनजान लोगों का दिया हुआ प्रसाद/मिठाई आदि मत खायियेगा.
पहुँचते ही चिट्ठी लिखिएगा.

अजय कुमार said...

शुभ और सफल यात्रा की अनगिनत शुभकामनायें ।

sangeeta swarup said...

अजीत जी ,

आपकी यात्रा शुभ और मंगलमय हो....आपकी कमी लगेगी पर कभी कभी दर्शन मिल जाने की संभावनाएं हैं...लौट कर वहाँ की यात्रा का वृतांत सुनियेगा....

शुभकामनायें

संगीता पुरी said...

आपकी यात्रा मंगलमय हो .. आपका प्रवास सुखदायी हो !!

स्वप्निल भारतीय said...

शुभकामनायें। हम तो वर्जीनिया मे हैं। वैसे एक सुझाव। कृप्या इस तरह ब्लाग पर अपना नं न दे। खतरनाक है।

आभार
स्वपनिल भारतीय

chetna said...

उम्मीद है प्रवास के दौरान के रोचक अनुभव जल्दी ही पढऩे को मिलेंगे। शुभ यात्रा।

ajit gupta said...

स्‍वपनिल जी
आपका आभार। मैंने फोन नम्‍बर हटा दिया है। मुझे लगा कि इस में ऐसा क्‍या बुरा है, लेकिन आप कह रहे हैं तो मानना ही अच्‍छा है।

बी एस पाबला said...

आपकी यात्रा शुभ हो।
अमेरिका प्रवास आनंदमय हो!

बी एस पाबला

अनूप शुक्ल said...

यात्रा और प्रवास के लिये मंगलकामनायें!

Anil Pusadkar said...

राम राम,आपका प्रवास सुखमय हो।वापसी का इंतज़ार रहेगा।आपकी कमी ब्लागजगत महसूस करता रहेगा।

rajeevspoetry said...

अजित जी,
मैं भी कैलिफोर्निया में हूँ. San Francisco के पास. कोई काम या सहायता हम कर सकें तो बताएं.

-Rajeev Bharol

महफूज़ अली said...

मम्मा. आपकी कमी बहुत खलेगी.... बहुत मिस करूँगा आपको..... आपको कल फ़ोन करता हूँ....

आपकी यात्रा मंगलमय हो....

खुशदीप सहगल said...

अजित जी,

आपकी यात्रा शुभ हो...

आपकी दो महीने कमी खलेगी, लेकिन वक्त निकाल कर कभी-कभार दो-चार लाइनें लिख ज़रूर दीजिएगा...हिंदी की व्यवस्था न हो तो हम सबके लिए आपका रोमन में भी लिखा चलेगा...

एक बात और, ये आचार मत ले जाइए, सुना है एयरपोर्ट पर ही निकाल कर फेंक दिया जाता है...ऐसा करिए इसे मक्खन को भिजवा दीजिए...बेचारा रोज पराठों के साथ इसे खाते हुए आपको याद करेगा...

जय हिंद...

श्यामल सुमन said...

आपकी यात्रा मंगलमय हो। वैसे अमेरिका से भी ब्लाग लिखा - पढ़ा जा सकता है।

सादर
श्यामल सुमन
09955373288
www.manoramsuman.blogspot.com

mamta said...

आपकी यात्रा शुभ और मंगलमय हो .

Udan Tashtari said...

अगर यहाँ आने का प्लान हो तो मिठाई हमारे लिए भी रख लिजियेगा.. :)

जी.के. अवधिया said...

हमारी भी शुभकामनाएँ स्वीकार करें। आपकी यात्रा मंगलमय और प्रवास सुखमय हो!

पी.सी.गोदियाल said...

शुभकामनाएं, Bon Voyage !!

ताऊ रामपुरिया said...

आप बिल्कुल चिंता मत किजियेगा, यहां की चिंता छोडकर आप USA घूमकर आयें. यहां हम बिल्कुल नही लडेंगे झगडेंगे. अच्छे और सलीके दार बच्चों की तरह सिर्फ़ जबान से लडेंगे हाथ पैर बिल्कुल नही चलायेंगे. आप बिल्कुल भी चिंता नही करें. आपके आने तक अच्छा लिखने की क्या बात? बल्कि हम लिखने ही नही देंगे किसी को.

बस आप जल्दी आजाना और हम बच्चों के लिये ढेर सारे खिलौने लेते आना.

पुन: बदमाशी ना करने के आशवासन और शुभकामनाओ के साथ हम सब ब्लाग बच्चे आपकी वापसी के इंतजार में.

आपकी यात्रा सुखद और मंगलमय हो यही शुभेच्छा है.

रामराम.

ज़ाकिर अली ‘रजनीश’ said...

आपकी यात्रा मंगलमय हो, हार्दिक शुभकामनाएं।
--------
गुफा में रहते हैं आज भी इंसान।
ए0एम0यू0 तक पहुंची ब्लॉगिंग की धमक।

वन्दना said...

आपकी यात्रा मंगलमय हो ।

Suresh Chiplunkar said...

सुखद यात्रा हेतु समस्त शुभकामनाएं, हम वादा करते हैं कि अच्छी पोस्ट नहीं लिखेंगे… बस कामचलाऊ लिखेंगे… फ़िर भी यदि अमेरिका में कम्प्यूटर और हिन्दी की व्यवस्था हो जाये तो जल्दी से जल्दी पोस्ट और खैर-खबर लिख दीजियेगा…

कविता वाचक्नवी Kavita Vachaknavee said...

शुभकामनाएँ।

Anonymous said...

भगवान् का शुक्र है वैसे क्या अमेरिका में कंप्यूटर नहीं मिलते?

अन्तर सोहिल said...

हार्दिक शुभकामनायें

प्रणाम

वन्दना अवस्थी दुबे said...

आपकी यात्रा के लिये अनन्त शुभकामनायें. मन न लगे तो जल्दी लौट आइयेगा. हम इन्तज़ार कर रहे हैं.

सुलभ § सतरंगी said...

आपकी यात्रा शुभ हो!

ajit gupta said...

सुरेश जी, कम्‍प्‍यूटर की व्‍यवस्‍था तो है बस हिन्‍दी का सारा सेटअप अपने ही लेपटॉप में डालना पड़ेगा। फिर वहाँ जाने में सारी व्‍यवस्‍था में कुछ दिन लग ही जाएंगे। इसलिए ही मैंने लिखा है कि पता नहीं कितने दिन बाद ब्‍लागिंग का सुख मिले? मेरे जैसा इंसान ज्‍यादा दिन बिना लिखे रह सकता है भला? आप सभी की शुभकामनाओं को साथ लेकर जा रही हूँ और शीघ्र ही संवाद स्‍थापित करने का प्रयास रहेगा।

Amit Sharma said...

आपकी यात्रा शुभ और मंगलमय हो .

डॉ. मनोज मिश्र said...

आपकी यात्रा मंगलमय हो, हार्दिक शुभकामनाएं।

देवेश प्रताप said...

आपकी यात्रा मंगलमय हो .....

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक said...

आपकी यात्रा मंगलकारी हो.
और आपका अमेरिका प्रवास आनंदमय हो!

सतीश सक्सेना said...

खूबसूरत जगह जा रही हैं आप ! यात्रा मंगलमय हो आप सुखद अनुभवों और हँसते हुए वापस आयें यही कामना है !

Mrs. Asha Joglekar said...

अजित जी आप तो अब तक यहां(य़ू एस) पहुंच चुकी होंगी । आशा है आपकी यात्रा सुखद रही । मैं भी आजकल यहीं हूँ एन्डरसन साउत केरोलीना में । अब थोडा घूमना फिरना होगा । आपके अगले लेख का िन्तजार रहेगा ।

mridula pradhan said...

aapki baaten achchi lagi.